OTHER

अपना बिजनेस शुरू करने में नहीं आएगी पैसों की किल्लत, ऐसे उठाएं सरकारी स्कीम का फायदा

Advertisement

आपके लिए कुछ ऐसी सरकारी योजनाएं हैं जो पैसों की किल्लत नहीं आने देंगी
प्रधानमंत्री मुद्रा योजना उन लोगों के लिए है जो नया कारोबार शुरू करना चाहते हैं
मुद्रा योजना के तहत शिशु लोन, किशोर लोन और तरुण लोन दिए जाते हैं

कहा जाता है कि जब आप अपनी नौकरी में समय देते हैं तो फायदा कंपनी को होता है, वहीं जब आप अपने कारोबार को समय देते हैं तो फायदा आपको होता है। अपना कारोबार होना तो हर किसी का सपना होता है। लेकिन इस कारोबार के लिए पैसे की व्यवस्था कर पाना रह किसी के बस की बात नहीं होती। जोखिम के चलते आम नौकरीपेशा लोग पूरी जिंदगी नौकरी करने में ही काट देते हैं।

लेकिन यदि आपमें कुछ अलग करने का साहस है तो आपके लिए कुछ ऐसी सरकारी योजनाएं हैं जो आपको किसी भी कदम पर पैसों की किल्लत नहीं आने देंगी। केंद्र की सरकार इस समय आत्मनिर्भर भारत के महामिशन पर काम कर रही है। ऐसे में अगर आप खुद का कारोबार शुरू करना चाहते हैं तो केंद्र सरकार (Central Government) इसमें आपकी मदद करेगी।

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना का उठाएं लाभ 

मोदी सरकार की प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) देश के उन लोगों के लिए है जो नया कारोबार शुरू करना चाहते हैं या अपने मौजूदा कारोबार को आगे बढ़ाना चाहते हैं। कई बार कारोबारियों को बैंक लोन नहीं देते हैं। ऐसे में प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत आप लोन ले सकते हैं। जिस व्यक्ति के नाम कोई कुटीर उद्योग है या जिसके पास पार्टनरशिप के दस्‍तावेज हैं वह इस लोन का लाभ उठा सकता हैं।

मुद्रा योजना में तीन प्रकार के लोन 

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत तीन तरह के लोन दिए जाते हैं। सरकार ने इसे शिशु लोन, किशोर लोन और तरुण लोन योजना में बांटा है।

शिशु लोन योजना- शिशु लोन योजना के तहत दुकान आदि खोलने के लिए 50,000 रुपये तक का लोन लिया जा सकता है।

किशोर लोन योजना- इस योजना में लोन की राशि 50,000 रुपए से 5 लाख रुपये तय की गई है।

तरुण लोन योजना- अगर आप कोई छोटा-मोटा उद्योग शुरू करना चाहते हैं तो उसके लिए तरुण लोन योजना में 5 लाख से 10 लाख रुपये तक का लोन लिया जा सकता है।

कौन ले सकता है लोन?

PMMY सिर्फ छोटे व्‍यापारी और कारोबारियों के लिए है। अगर आप कोई बड़ा कारोबार शुरू करना चाहते हैं तो आपको इस योजना के तहत लोन नहीं मिलेगा। छोटी निर्माण इकाई, सर्विस सेक्टर का कारोबार, दुकान, फल/सब्जी की दुकान, ट्रक सेवा, फूड यूनिट, रिपेयर शॉप, मशीन, लघु उद्योग, दस्तकार, फूड प्रोसेसिंग यूनिट शुरू करने के लिए इस योजना के तहत लोन लिया जा सकता है।

कहां से मिलेगा लोन?

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत किसी भी सरकारी बैंक, ग्रामीण बैंक, सहकारी बैंक, प्राइवेट बैंक या विदेशी बैंकों से लोन लिया जा सकता है। आरबीआई ने 27 सरकारी बैंक, 17 प्राइवेट बैंक, 31 ग्रामीण बैंक, 4 सहकारी बैंक, 36 माइक्रो फाइनेंस संस्थान और 25 गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (NBFC) को मुद्रा लोन बांटने के लिए अधिकृत किया गया है। प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के बारे में और ज्यादा जानकारी के लिए ऑफिशियल वेबसाइट mudra.org.in पर पूरी डीटेल्स मौजूद हैं।

Advertisement
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button