CHHATTISGARHSARANGARH

कलेक्टर डॉ.फरिहा आलम सिद्दकी ने धान खरीदी कार्यों की ली समीक्षा बैठक

Advertisement

“प्रखरआवाज@न्यूज़”

जिले में आगामी दिनों में पुन: होगा पैरादान महाअभियान

सारंगढ़-बिलाईगढ़ न्यूज़/ कलेक्टर डॉ.फरिहा आलम सिद्दकी ने आज जनपद पंचायत के सभाकक्ष में खाद्य विभाग के पदाधिकारियों की समीक्षा बैठक ली। उन्होंने उपस्थित सभी संबंधित अधिकारी-कर्मचारियों को धान खरीदी कार्यों में किसानों की सुविधाओं का पूरा ध्यान रखने को कहा। साथ ही धान के उचित रख-रखाव और उठाव की व्यवस्था सुनिश्चित रखने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री सिद्दकी ने धान के परिदान और ऊपार्जन में अंतर न हो, इस पर विशेष ध्यान रखने के लिए कहा। उन्होंने पैरादान महाअभियान पर चर्चा करते हुए बताया कि पहले एक दिन के लिए पैरादान महाअभियान का सफलतापूर्वक आयोजन किया गया था, उसी तर्ज में आगामी 27 से 29 दिसंबर तक तीन दिनों के लिए पैरादान महाअभियान का आयोजन किया जाएगा ताकि पैरा संग्रहण समुचित मात्रा में हो सके।

कलेक्टर डॉ.सिद्दकी ने खराब मौसम या ओलावृष्टि के मद्देनजर उपार्जन केन्द्रों में समुचित व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। इसके अलावा धान ऊपार्जन में धान की आवक और उठाव को नियमित रूप से करने को कहा तथा परिदान और ऊपार्जन में सामंजस्य बनाए रखने हेतु निर्देशित किया। उन्होंने धान खरीदी केन्द्रों में गड़बड़ी के मामलों पर संबंधित नोडल को सूचित करने को कहा। उन्होंने स्टैकिंग का ध्यान रखने की बात कहते हुए कहा कि प्रतिदिन स्टैकिंग करें, ताकि कोई भी निरीक्षण के लिए अगर आए तो उसे एक बार में गिनती करने में पता चल जाना चाहिए। साथ ही बारदाने की मार्किंग का ध्यान रखने को कहा, इसके अलावा सिलाई के लिए प्लास्टिक का उपयोग न करते हुए सुतली का इस्तेमाल करने को कहा क्योंकि प्लास्टिक एक समय के बाद नमी की वजह से सढऩे लगता है।
समीक्षा बैठक में कलेक्टर डॉ.सिद्दकी ने कहा कि वे लगातार धान खरीदी केंद्रों का निरीक्षण कर रही हैं। उन्होंने कहा कि अब आने वाले समय में धान की आवक बढऩे वाली है, इसलिए धान खरीदी के कार्य को बहुत अधिक गंभीरता से लें। सभी अपने स्तर पर बेहतर कार्य करें, किसी की शिकायत नहीं आनी चाहिए अन्यथा कार्यवाई की जाएगी। सहकारिता अधिकारी ने धान की आवक के समय का विशेष ध्यान रखते हुए बताया कि कई जगह 3 बजे के बाद भी धान की आवक हो रही है। इसके अलावा जो किसान ऋण लिए हैं, उनकी एंट्री सुनिश्चित करने को कहा ताकि आने वाले समय में बैंकिंग की समस्या न आए, साथ ही रकबा समर्पण करने के साथ उसकी एंट्री नियमित रूप से करने के लिए कहा। उन्होंने धान की जांच करने, स्टैकिंग के नियमों का पालन करने और समय पर धान उठाव करवाने, फड़ प्रभारी और बारदानी प्रभारी की नियुक्ति, हमालों की व्यवस्था, धान की मात्रा का ऋण पुस्तिका में एंट्री, रकबा समर्पण, धान की नमी का उचित ढंग से मापन करने, धान के बारिश और नमी से बचाव की उचित व्यवस्था रखने, शाम के बाद धान उठाव न करने और धान की तौलाई में किसी भी प्रकार की गड़बड़ी ना करते हुए अन्य आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित रखने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने सभी धान खरीदी केंद्रों में पैरादान के दो फ्लेक्स लगाना सुनिश्चित करने को कहा ताकि जो भी किसान धान बेचने आएं वे सभी धान कटाई के पश्चात गौठानों में पैरादान करें। बैठक में अपर कलेक्टर निष्ठा पाण्डेय तिवारी, खाद्य अधिकारी, सहकारिता विभाग के अधिकारी एवं संबंधित विभाग के अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।

Advertisement
Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button