CHHATTISGARHNATIONALSARANGARH

जिला पंचायत सभापति अनिका बिनोद भारद्वाज मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़ पर्व सम्मान निधि के शुभारंभ में हुईं सम्मिलित

Advertisement

“प्रखरआवाज@न्यूज”

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज दोपहर 12 बजे रायपुर निवास कार्यालय से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ‘मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़ी पर्व सम्मान निधि’ का शुभारंभ किया। योजना का शुभारंभ छत्तीसगढ़ी राजगीत ‘अरपा पैरी के धार’ गीत से हुआ।

कार्यक्रम में सम्मिलित रहे जिला पंचायत सभापति अनिका बिनोद भारद्वाज, जनपद पंचायत सभापति अरूण मालाकार, जिला पंचायत सदस्य बैजन्ती लहरे,मुख्य कार्यपालन अधिकारी अभिषेक बनर्जी एवम जनप्रतिनिधिगण अधिकारी कर्मचारियों की रही उपस्थिति।

राज्य शासन द्वारा सामुदायिक विकासखण्ड के ग्रामीण क्षेत्रों में छत्तीसगढ़ी तीज-त्यौहार, संस्कृति एवं परंपरा को संरक्षित करने के उद्देश्य से ‘मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़ी पर्व सम्मान निधि‘ योजना प्रारंभ किया गया है।राज्य शासन द्वारा प्रदेश के सामुदायिक विकासखण्ड के ग्रामीण क्षेत्रों के तीज त्यौहार, संस्कृति एवं परंपरा को संरक्षित करने के उद्देश्य से ’मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़ी पर्व सम्मान निधि’ योजना वर्ष 2023-24 में प्रारंभ की जा रही है। सामुदायिक क्षेत्र के ग्रामों में स्थानीय उत्सव, त्यौहारों, मेला, मड़ई का विशेष महत्व रहता है इस योजना के अंतर्गत ऐसे सभी छत्तीसगढ़ी उत्सवों, त्यौहारों, संस्कृति को संरक्षित करने के उद्देश्य से प्रत्येक ग्राम पंचायत को दो किश्तों में कुल 10 हजार रूपए जारी किए जाएंगे। यह राशि केवल सामुदायिक विकासखण्ड क्षेत्र के ग्राम पंचायतों को देय होगी। कतिपय ग्राम पंचायतों में एक से अधिक गांव, मोहल्ला, टोला स्थित है किंतु योजना के क्रियान्वयन हेतु ग्राम पंचायत स्तरीय शासी निकाय समिति का गठन किया जाता है। इसमें सरपंच (अध्यक्ष), पुजारी या बैगा सदस्य, ग्राम के 02 बुजुर्ग सदस्य, ग्राम के दो महिला सदस्य, ग्राम कोटवार या पटेल सदस्य एवं ग्राम सचिव को शामिल किया गया है। इन्हें योजना के क्रियान्वयन हेतु मार्गदर्शन जनपद पंचायत स्तर से दिया जाएगा, जिससे राशि का समुचित उपयोग किया जा सके। गांव के किस-किस तीज त्यौहार के लिये इस राशि का उपयोग किया जायेगा, इसका निर्धारण ग्राम पंचायत स्तरीय शासी निकाय समिति द्वारा किया जायेगा। इस योजना के कियान्वयन की निगरानी-समन्वय संबंधी कार्य जनपद स्तरीय शासी निकाय द्वारा किया जायेगा। इस योजना का विस्तृत प्रचार-प्रसार करते हुए सर्वसंबंधितों की जानकारी में लाया जाये ताकि योजना का लाभ प्रदेश के समस्त सामुदायिक विकासखण्डों के ग्रामीण समाज को प्राप्त हो सके।

Advertisement
Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button