SARANGARH

सारंगढ़ भारत माता चौक में कांग्रेसियों ने किया मैराथन धरना प्रदर्शन

Advertisement

जैतखाम आस्था का प्रतीक, बलौदाबाजार की घटना सरकार की नाकामी विनोद चंद्राकर पूर्व विधायक

भाजपा का राजनीतिक षड्यंत्र, अधिकारियों का निलंबन भी षड्यंत्र का हिस्सा – अरुण मालाकार

सतनामी समाज शांति का प्रतीक, बेगुनाहों पर fir करना बन्द करे – उत्तरी जांगड़े विधायक

पत्रकारों पर सुपारी किलिंग हमला पैदा कर रहा भय का वातावरण – कांग्रेस

sarangargarh news : सारंगढ़ भारत माता चौक में बलौदा बाजार के ग्राम महकोनी में 10 जून की घटना को लेकर संतोषप्रद जांच कार्यवाही न होने रायगढ़ जिले में पत्रकार के ऊपर प्राण घातक हमला महिला सुरक्षा बिजली कटौती जैसे विषयों को लेकर सारंगढ़ बिलाईगढ़ जिला कांग्रेस कमेटी मुखर दिखाई दी।

सारंगढ़ के हृदय स्थल भारत माता चौक में प्रदेश कांग्रेस के आह्वान पर आयोजित जिला कांग्रेस का धरना प्रदर्शन घंटो देर तक मैराथन प्रदर्शन के रूप में चलता रहा जहां कांग्रेसियों ने छत्तीसगढ़ भाजपा सरकार के षड्यंत्र रूपी बलौदा बाजार की घटना कार्यवाही को आधे हाथों लेते हुए जमकर विरोध प्रदर्शन किया कार्यक्रम के प्रभारी के रूप में पूर्व विधायक विनोद चंद्राकर श्रीमती उत्तरी गणपत जांगड़े विधायक सारंगढ़ जिला अध्यक्ष अरुण मालाकार वरिष्ठ कांग्रेसियों ने सरकार की नाकामी सफलता और उक्त घटना की जमकर भर्तसना की।

मंच को वरिष्ठ कांग्रेसी प्रदेश कांग्रेस प्रतिनिधि सुरज तिवारी, गणपत जांगड़े विधायक प्रतिनिधि, श्रीमती अनिका भारद्वाज सभापति जिला पंचायत, दाऊ लाल चंद्राकार पूर्व मंडी अध्यक्ष बंजारे जी, किशोर पटेल जनपद उपाध्यक्ष बरमकेला, महेश देहरी जिला महामंत्री, कन्हैया सारथी, तिलक नायक,डॉ गोपाल बाघे, दीपक टंडन ब्लॉक अध्यक्ष बिलाईगढ़, सहदेव सिदार जनपद सदस्य, शुभम वाजपेई युवा कांग्रेस जिलाध्यक्ष आदि वक्ताओं ने उद्बोधित किया। मंच का सफल संचालन बड़े ही शायराना अंदाज में अपने ओजस्वी भाषण के साथ प्रखर वक्ता गोल्डी नायक व आभार प्रदर्शन पुरुषोत्तम साहू ब्लॉक कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष सारंगढ़ ने किया।

कार्यक्रम के प्रभारी और पूर्व विधायक विनोद चंद्राकर जी ने सभी कांग्रेस के पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं का अभिवादन करते हुए सारंगढ़ की नगरी को नमन किया और अपने उद्बोधन में उन्होंने साफ शब्दों में कहा बलोदा बाजार में 10 जून को घटित घटना में सरकार पूरी तरह से फैलियर साबित हो चुकी है यह सरकार एक धर्म विशेष को एक समाज विशेष को टारगेट कर रही है उच्च स्तरीय जांच हो जाए तो कहीं ना कहीं इस सरकार की भूमिका से पर्दा हट जाएगा।

आसन्न विधानसभा और लोकसभा चुनाव में सतनामी समाज की भूमिका को देखकर क्या ऐसा षड्यंत्र रचा गया है ? क्या जान बूझकर प्रशासन ने समाज की बातें नहीं सुनी और उन्हें उकसाया ? क्या समय रहते उचित कार्यवाही नहीं हो सकती थी ? कलेक्टर और एसपी को निलंबित करने से सरकार की भूमिका और गलती सुधर नहीं सकती।

भाजपा सरकार के आते ही छत्तीसगढ़ बिजली कटौती को लेकर भयावह स्थिति झेल रहा है। भाजपा के द्वारा लाखों बेरोजगारों को नौकरी देने की बात, युवाओं महिलाओं को आर्थिक लाभ देने की बात, आज झूठी साबित हो रही है। पंचायत में देखा तो गौठान योजना कबाड़ बनता जा रहा है। गायों को बेचा जा रहा हैा गौ मांस का व्यापार हो रहा है सड़कों पर गए मररही हैं। जिले में पत्रकार पर हमला भय की स्थिति उत्पन्न करती है।

जहां चौथा स्तंभ खतरे में है तो आप और हम कहां तक सुरक्षित हैं। बलौदा बाजार की घटना की में कड़ी निंदा करता हूं और आज घंटे देर तक सारंगढ़ बिलाईगढ़ जिले के कांग्रेस के कार्यकर्ता इस चिल्लाती धूप में पंडाल के नीचे पूरी ऊर्जा के साथ धरना प्रदर्शन कर रहे हैं कार्यकर्ताओं की या भीड़ बताती है कि कार्यक्रम और यह धरना प्रदर्शन कितना सफल है आने वाले समय में हम समाज के साथ हैं सारंगढ़ कांग्रेस एक मजबूत स्तंभ है।

जिला कांग्रेस अध्यक्ष अरुण मालाकार ने कहा कि बलौदा बाजार की घटना प्रशासन की बड़ी चूक है और कहीं ना कहीं पीले और भगवा गमछे में बाहरी लोग उक्त घटना के षड्यंत्र का हिस्सा हो सकते हैं। घटना के पूर्व हजारों लोगों के खाने पीने की व्यवस्था वाहनों की व्यवस्था का खर्च किसने उठाया ? किसने राजनीति रोटी सेकी? सतनामी समाज बहुत ही शांत समाज है। सतनामी समाज की मांग पर समय रहते प्रशासन ने ध्यान क्यों नहीं दिया ? क्या प्रशासन ने जान बूझकर समाज के लोगों को उकसाया।

शांतिपूर्ण आंदोलन के बीच उपद्रव कारी कहां से आए ? यह सब जांच का विषय है कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं के टीम ने उक्त घटनास्थल पहुंचकर जो संज्ञान लिया उसमें बहुत कुछ तथ्य गंभीर जांच का विषय है साथ ही साथ रायगढ़ में पत्रकार पर जानलेवा हमला और सरकार के आते ही बिजली कटौती महिलाओं पर अत्याचार निरंकुश सरकार की विफलताओं को बयां कर रहा है।

श्रीमती उत्तरी जांगडे ने कहा सतनामी समाज श्वेत ध्वज के साथ एक शांति का प्रतीक है बाबा साहब के अनुयाई और उनसे जुड़ा समाज उनके आदर्शों पर चलता है। समाज की मांग को दरकिनार करना और घटना के घटित होने के बाद चिन्हांकित कर बेगुनाहों पर कार्यवाही दर्ज होना सरकार की लापरवाही और तानाशाही को बयां करता है। अपनी भूल चूक को सरकार छिपा नहीं सकती। किसी समाज विशेष को टारगेट करना राजनीतिक परिदृश्य में साफ नजर आ रहा है।

सूरज तिवारी जी ने बताया कि उक्त घटना की जितनी भी निंदा की जाए वह कम है सरकार समय रहते सार्थक प्रयास कर सकती थी।

गणपत जांगड़े जी ने सतनामी समाज के नीति रीति, बाबा साहब के आदर्श जैतखाम की आस्था पर अपने विचार रखें और बताया की घटना की उच्च स्तरीय जांच होनी चाहिए कहीं ना कहीं यह एक षड्यंत्र का हिस्सा है समाज के लोगों को फसाया जा रहा है।

उक्त कार्यक्रम में प्रमुख रूप से वरिष्ठ कांग्रेसी पूर्व संसदीय सचिव चंद्रदेव राय, संजय दुबे जिला कांग्रेस उपाध्यक्ष, रामनाथ सिदार उपाध्यक्ष नगर पालिका, अजय बंजारे विधायक प्रतिनिधि नगर पालिका, मंजू लता आनंद सेवादल प्रदेश महिला अध्यक्ष, सरिता गोपाल महिला कांग्रेस अध्यक्ष पार्षद, राज कमल अग्रवाल जिला उपाध्यक्ष युवा कांग्रेस, प्राण लहरें, नेमीचंद केसरवानी, जिलाध्यक्ष अल्प संख्यक शाहजहां खान,जिलाध्यक्ष अनुसूचित जाति दिलीप अनंत, विनोद भारद्वाज, जिलाध्यक्ष सेवादल इंदु पड़वार, जिला अध्यक्ष छात्र संगठन अभिषेक शर्मा, ब्लॉक एवं शहर अध्यक्ष गण पवन अग्रवाल, विष्णु चंद्र, पंकज चंद्र, दीपक टंडन, वरिष्ठ कांग्रेसी चिंता पटेल, मोहन पटेल, रविंद्र नंदे, अशोक अग्रवाल लेफ्टि, ईशरथ खान, दिनेश अग्रवाल, राकेश पटेल, महेंद्र गुप्ता, लाल बहादुर चंद्रा, रमेश पटेल, लोचन पटेल, गिरजा पटेल, मुन्ना पटेल, विक्की पटेल सरपंच संघ सचिव, अंकित पटेल, कैलाश, नसीब, प्रणव वारे बीडीसी रायगढ़ रोड, शंकर चौहान, सुधा वारे, रोहित महिलाने, दुर्गेश अजय, लक्ष्मी वर्मा, नरेंद्र अजगल्ले, डलेश्वर रात्रे, केशव टंडन, अजय लक्ष्में, मुकेश साहू प्रवक्ता, बोधराम साहू, राकेश नायक पार्षद बरमकेला, ठाकुर राम पटेल, शालिक राम नायक, शशि कांत साहू बंटी, नवीन इजारदार, मनोहर नायक, घनश्याम इज़रदार, संपत पटेल, बीसीकेशन चौहान, पुष्पराज, नगर पालिका पार्षद रामप्रसाद यादव लंबू, सुनील यादव पार्षद, शंकर चंद्र, महेंद्र थवाईत, किशोर निराला, दुर्गेश स्वर्णकार विधायक प्रतिनिधि, हारुण खान अल्पसंख्यक अध्यक्ष, विजय सिदार, अरुण निषाद, रामसिंह ठाकुर, जितेंद्र पुराइन, रामेश्वर चंद्र, राजेंद्र वारे विधानसभा कार्यकारी अध्यक्ष, धनेंद्र साहू, शाहजहा बेग,हर्ष यादव, हेमंत चंद्रा, आशीष नंदे, सत्यम बाजपेई, सागर दीवान, विकास मालाकार, चारु शर्मा, आयुष दुबे, अभिषेक गोपाल, विशाल आनंद, रवि, इराक टांडे, राहुल मैत्री, आशु ठाकुर, अभिषेक थवाईत, रूपेंद्र दास, बिलाल खान, संस्कार गुप्ता, छोटे बड़े बाबू, मोती जायसवाल, संजय साहू, कमलेश कुर्रे, मिथिलेश, दीनानाथ जाटवर जिले भर के सैकड़ो कांग्रेसी कार्यकर्ता शामिल रहे।

Advertisement
Advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button